आंदोलनरत बेरोज़गार डिप्लोमा फ़रमासिस्टों को हरीश रावत ने दिया समर्थन

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin

देहरादून: आंदोलनरत बेरोज़गार डिप्लोमा फ़रमासिस्टों के  ६८ दिनों के धरने एवं आमरण अनशन के पाँचवें दिन  के बाद आज कोंग्रेस पार्टी के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने पूर्ण समर्थन दिया। उन्होंने एकताविहार धरनास्थल पर जाकर  आमरण अनशनकारियों और जिनमें एक २ साल की बच्ची को लेकर बैठी महिला अनशनकारी का हाल पूछते हुये बेरोज़गार एलोपैथिक डिप्लोमा फ़ार्मासिस्टों का खुलकर समर्थन देते हुये कहा है की उनकी पूर्व सरकार ने उपकेंद्रो पर जो फ़ार्मासिस्टों के पद सृजित किये थे वे उन ५३६ पदों को यथावत रखकर एवं  उनकी संख्या में वृद्धि करते हुये शेष १३६८ उपकेंद्रों पर और वर्षों से रिक्त पड़े पदों पर फ़ार्मसिस्टों की सीधी वर्षवार के क्रम में नियमावली के अनुसार भर्ती करेगी।  हरीश रावतजी के कहा है कि हमारा सपना ग्रामीण क्षेत्रों में रोज़गार एवं बेहतर स्वास्थ्य सेवायें उपलब्ध कराना है । उनका यह भी कहा है कि भविष्य में हमारी सरकार बनते ही उनकी प्रार्थमिकता में फ़ार्मसिस्टों का मुद्दा रहेगा ।

हरीश रावतजी ने फ़ोन पर माननीय मुख्यमंत्रीजी से फ़ार्मसिस्टों के प्रकरण पर संज्ञान लेने को कहा है । उन्होंने कहा है कि अति शीघ्र फ़ार्मसिस्टों के सिस्टमंडल को बुलाकर उनकी समस्याओं का निदान किया जाये अन्यथा की स्थिति में २४ घंटों के अंदर वह और उनकी पार्टी फ़ार्मसिस्टों की उग्र एवं आक्रोश रेली में मिलकर प्रदर्शन करेगी।