इश्क में थी वो मजबूर, शादी के बाद भी नहीं कर पाई आशिक को दिल से दूर- पति पर चढ़ा दो दिलों को एक करने का फितूर, पत्नी की मांग में उसके प्रेमी से भरवा दिया सिंदूर …

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin

कानपुर : बड़े पर्दे पर 38 वर्ष पूर्व आई फिल्म ‘वो सात दिन’ और 22 वर्ष पूर्व आई ‘हम दिल दे चुके सनम’ में जो किरदार अभिनेता नसीरुद्दीन शाह और अजय देवगन ने निभाने की कोशिश की थी, उसे भौंती के युवक ने शुक्रवार को रियल लाइफ में कर दिखाया। शादी के बाद पत्नी के किसी और से संबंधों की जानकारी होने पर शुक्रवार शाम दिल पर पत्थर रखकर उसने पत्नी की शादी उसके प्रेमी से करा दी। गोल चौराहा स्थित आशा ज्योति केंद्र पर हुई इस शादी के गवाह तीनों के स्वजन के साथ जिला प्रोबेशन अधिकारी और वन स्टाप सेंटर प्रबंधक व महिला सिपाही भी बनीं।

सचेंडी के भौंती निवासी बीएससी पास 22 वर्षीय कोमल शर्मा जब नौवीं कक्षा में थी, तब उसकी दोस्ती चकरपुर मुरलीपुर गांव के 23 वर्षीय पिटू सिंह से हुई थी। दोनों में प्रेम संबंध हुए और साथ जीने मरने की कसमें खाईं, लेकिन घरवालों से बताने की हिम्मत नहीं हुई। कोमल के स्वजन को जानकारी हुई तो उन्होंने बर्रा आठ निवासी पंकज शर्मा से रिश्ता तय कर दिया। बीएससी पास पंकज गुरुग्राम की एक फर्म में अकाउंटेंट हैं। दो मई 2021 को कोमल व पंकज की शादी हो गई, लेकिन एक भी दिन दंपती में नहीं बनी। पंकज बताते हैं कि कोमल ने कभी पत्नी धर्म नहीं निभाया। वह किसी से कोई बात तक नहीं करती थी। दबाव बनाने पर रक्षाबंधन के दिन बताया कि वह पिटू से शादी करना चाहती थी। तब पंकज को पत्नी के प्रेमी के बारे में जानकारी हुई। उन्होंने कोमल के भाइयों को बताया तो उन्होंने बहन को समझाने की कोशिश की, लेकिन बात नहीं बनी।

भाई ने बताया कि करवाचौथ से पहले 22 अक्टूबर को कोमल लापता हो गई। कहीं पता नहीं लगा तो बर्रा थाने में पिटू पर शक जताते हुए गुमशुदगी लिखाई। 27 अक्टूबर को पुलिस ने पिटू से पूछताछ शुरू की। उसी दिन कोमल ने डीसीपी साउथ के दफ्तर में पति और मायके पक्ष के खिलाफ उत्पीड़न का आरोप लगाकर और जान का खतरा बताते हुए तहरीर दी। तब जांच गोल चौराहा स्थित एंटी डोमेस्टिक वायलेंस सेल और आशा ज्योति केंद्र की प्रभारी दारोगा निधि गुप्ता के पास पहुंची। उन्होंने कोमल, पंकज व पिटू और तीनों के स्वजन को बुलाकर बात की। कोमल ने प्रेमी के साथ रहने की जिद की तो तीनों के स्वजन कोमल व पिटू की शादी के लिए राजी हो गए। शुक्रवार शाम विधि-विधान से पिटू व कोमल का विवाह कराया गया।

भाई बोले, अब बहन से कोई वास्ता नहीं

कोमल और पिटू की शादी कराने से पहले अधिवक्ता की मौजूदगी में स्टांप पेपर पर कोमल, पिटू और पंकज ने शपथ पत्र भी लिखकर दिए। कोमल के भाइयों और पिटू के स्वजन ने भी इसमें हस्ताक्षर किए। भाइयों ने साफ कह दिया कि अब कोमल से उनका कोई रिश्ता नहीं रहेगा। यही नहीं, भविष्य में कोमल पिता की या पति की संपत्ति पर कोई दावा नहीं कर सकेगी। कोमल ने भी हामी भरी।

शपथ पत्र के आधार पर तलाक के लिए लगाएंगे अर्जी

पंकज ने बताया कि शपथ पत्रों के आधार पर वह तलाक लेने को परिवार न्यायालय में अर्जी लगाएंगे। इससे उनका और कोमल का भविष्य सुरक्षित रहेगा। आगे वह अपनी अलग दुनिया बसा सकेंगे। उन्होंने आशा ज्योति केंद्र व जिला प्रोबेशन अधिकारी का भी शुक्रिया अदा किया। बोले, अगर वह पहल नहीं करते तो आगे चलकर जीवन भर दुश्वारियां झेलनी पड़तीं।