‘हम कब्रिस्तान के लिए नहीं, मंदिरों पर खर्च कर रहे जनता का पैसा’ – योगी आदित्यनाथ

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin

अयोध्या: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का कहना है कि भाजपा सरकार जनता का पैसा कब्रिस्तान के लिए जमीन खरीदने पर नहीं, बल्कि मंदिरों के पुनर्निर्माण और सौंदर्यकरण पर खर्च कर रही है. उन्होंने विरोधियों को निशाना बनाते हुए कहा कि पहले राज्य का पैसा कब्रिस्तान के लिए जमीन खरीदने में उपयोग किया जाता था, लेकिन हमारी सरकार में ऐसा नहीं है. भाजपा मंदिरों के लिए पैसा खर्च कर रही है.

गरीबों को मिलता रहेगा मुफ्त अनाज

राम कथा पार्क में उत्तरप्रदेश सरकार की ओर से आयोजित भव्य दीपोत्सव कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे योगी आदित्यनाथ ने यह घोषणा भी की कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के तहत लाभान्वित लोगों को अगले साल होली तक मुफ्त राशन मिलता रहेगा. योगी ने कहा कि कोरोना महामारी के समय गरीबों को मुफ्त राशन देने की यह स्कीम इस साल नवंबर में खत्म हो रही थी, लेकिन सरकार ने इसे अगले साल होली तक बढ़ाने का निर्णय लिया है.

2023 में बन जाएगा राम मंदिर

योगी ने कहा कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण कार्य जारी है और 2023 तक यह बनकर तैयार हो जाएगा. इसके साथ ही केंद्र सरकार उत्तरप्रदेश में 500 मंदिरों व अन्य धार्मिक स्थलों का सौंदर्यकरण कर रही है. इनमें से 300 से ज्यादा साइटों पर कार्य पूरा हो चुका है. जबकि शेष साइटों पर अगले दो माह में कार्य पूरा कर दिया जाएगा. इस दौरान, CM योगी ने प्रदेश की पिछली सरकारों पर भी जमकर हमला बोला.

गोली चलाने वाले आज नतमस्तक

मुख्यमंत्री योगी ने कहा, ‘आपको याद होगा आज से ठीक 31 वर्ष पहले, 30 अक्टूबर 1990 और 2 नवंबर 1990 को इसी अयोध्या में राम भक्तों और कार सेवकों पर गोलियां चलाई गई थीं. उस समय जय श्री राम का नारा लगाना और राम मंदिर के लिए आवाज उठाना एक अपराध माना जाता था, लेकिन लोकतंत्र की ताकत कितनी मजबूत होती है, आपने उसका अहसास करवाया. जो 31 साल पहले राम भक्तों पर गोलियां चला रहे थे, इस लोकतंत्र की ताकत की वजह से आज वो आपके सामने झुके हैं’.

राम भक्तों पर होगी फूलों की बरसात

CM ने आगे कहा कि लगता है कि कुछ और वर्ष अगर आप (जनता) इसी तरह से ले चले तो, अगली कार सेवा के लिए तो उन लोगों का पूरा खानदान लाइन में खड़ा होता दिखाई देगा. अगली कार सेवा जब होगी तब गोली नहीं चलेगी, तब राम भक्तों पर कृष्ण भक्तों पर पुष्पों की वर्षा होगी, यही लोकतंत्र की ताकत है. वहीं, उधर उत्तरप्रदेश के संसदीय कार्य राज्य मंत्री आनंद स्वरूप शुक्ला ने समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव को उनके मोहम्मद अली जिन्ना वाले बयान पर आड़े हाथों लिया. शुक्ला ने दावा किया है कि यादव को पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई से संरक्षण मिल रहा है.