53 देशों मे फिर आ सकती है कोरोना की नई लहर, कई देशों मे रिकार्ड स्तर पर पहुंचे कोरोना के मरीज – WHO

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin

न्यूज़ डेस्क: दुनिया पर कोरोनावायरस महामारी का खतरा एक बार फिर मंडराने लगा है। दरअसल, विश्व स्वास्थ्य संगठन ने 53 देशों में कोरोनावायरस की नई लहर आने की चेतावनी दी है। विश्व स्वास्थ संगठन के रीजनल ऑफिस के प्रमुख डॉ. हैन्स क्लेज ने बृहस्पतिवार को कहा कि कुछ देशों में कोरोनावायरस के मामलों की संख्या दोबारा से करीब-करीब रिकॉर्ड स्तर पर बढ़ने लगी है और प्रसार की रफ्तार गंभीर चिंता का विषय है. उन्होंने कहा कि कोरोना नई लहर की आशंका से इनकार नहीं किया जा सकता है।

फिर से महामारी के केंद्र में है यूरोप

डब्ल्यूएचओ के अधिकारी के एक और उस बयान से लोगों की भौहें तन गई है, जिसमें यह कहा गया है कि फरवरी तक 500000 और लोगों की महामारी के कारण मौत हो सकती है, उन्होंने कहा कि यूरोप और मध्य एशिया के 53 देशों में कोरोनावायरस की एक और लहर आने का खतरा है. डॉ. हैन्स क्लेज ने डेनमार्क के कोपेनहेगन में संगठन के यूरोप हेड ऑफिस में पत्रकार वार्ता में कहा कि हम महामारी के उभार को लेकर एक अहम मोड़ पर खड़े हैं यूरोप फिर से महामारी के केंद्र में है जहां हम 1 साल पहले थे।

वैक्सीनेशन की रफ्तार धीमी

डब्ल्यूएचओ के अधिकारी डॉक्टर हैन्स क्लेज कहा कि दुनिया भर में वैक्सीनेशन की रफ्तार धीमी होने के कारण मामले बढ़ रहे हैं उन्होंने कहा कि पहले और आज की स्थिति में फर्क बस इतना है कि स्वास्थ्य अधिकारियों को वायरस के बारे में अब ज्यादा जानकारी है और उनके पास मुकाबला करने के लिए बेहतर उपकरण भी हैं। डब्ल्यूएचओ के अधिकारी ने बताया कि पिछले 1 सप्ताह में 53 देशों में कोरोना के कारण लोगों के अस्पताल में भर्ती होने की दर दोगुना से ज्यादा बढ़ गई है।