दूल्हा सीधा-साधा तो दुल्हन थी लम्पट, सुहागरात में पति को पिलाकर नशीला दूध, जेवर और कीमती सामान समेटकर लुटेरी दुल्हन हुई चंपत

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin

अलीगढ़: कस्बा दादों निवासी युवक से शादी कराने के लिए बहाने लाखों की ठगी का मामला प्रकाश में आया है। हालांकि शादी करायी गयी और दुल्‍हन भी घर आई लेकिन शादी के दूसरे दिन ही दुल्‍हन सारा सामान लेकर फरार हो गयी।

छोटे भाई की शादी हो चुकी है

कस्‍बा दादों निवासी  35 वर्षीय हीरालाल पुत्र जवाहर लाल की शादी नही हुई थी, जबकि छोटे भाई कन्हैयालाल की शादी हो चुकी है। बीते मंगलवार की सुबह कस्बा के एक युवक कन्हैयालाल के घर पहुंचा और कहने लगा कि आज दिल्ली से तुम्हारे भाई की शादी की बात की है, शादी करा दी जायेगी। लेकिन शादी कराने के लिए एक लाख पच्चीस हजार रुपये देने पड़ेंगे। कन्हैयालाल ने मामले में अपने भाई व मां से बात की। घर के सभी लोग शादी के लिए तैयार हो गये। कस्बा के युवक का दिल्ली निवासी साढू ने शादी के लिए वाट्सअप पर दो लड़कियों के फोटो भेजे, जिसमें से हीरालाल सहित परिवार के लोगों ने मालवीय नगर साउथ दिल्ली निवासी 22 वर्षीय एक युवती को शादी के लिए पसंद कर लिया। कस्‍बा के युवक ने कहा कि जल्दी पैसों का इंतजाम करो आज ही शादी करा दूंगा और दीपावली पर आपके घर लक्ष्मी का प्रवेश हो जायेगा। फिर क्या था युवक की बातों में पूरा परिवार आ गया और कुछ देर बाद अपने भाई की शादी के लिए कन्हैयालाल ने कस्बा के कुछ लोगों से एक लाख पचास हजार रूपये उधार लिए और करीब दो बजे कस्बा का युवक दोनों भाईयों को साथ लेकर गाजियाबाद पहुंच गया। सबसे पहले कस्बा के युवक ने दिल्ली निवासी अपने साढू से मुलाकात करायी। उसके बाद साढू ने कहा कि शादी के कपड़े और जेवर बनवा लाओं मैं लड़की पक्ष के लोगों को बुलाता हूं।

वकील के जरिए बाकायदा कोर्ट मैरिज हुई

कस्बा निवासी युवक ने करीब पचास हचार रूपये के जेवर व कपड़े आदि की खरीदारी कराकर गाजियाबाद की कचहरी में पहुंच गये। वहां युवती एक वकील के पास अपने फर्जी मां-बाप के साथ पहले से मौजूद मिली। युवती-युवक का वकील ने परिचय कराया। युवती हीरालाल से शादी करने के लिए तैयार हो गयी। युवती के तैयार होने पर कस्बा दादों के युवक ने कन्‍हैयालाल से शादी कराने के लिए तय हुए रूपये मांगे। दोनों भाइयों ने कस्बा के युवक को एक लाख रूपये दे दिए और पच्चीस हजार रूपये दादों पहुंचकर देने की बात कही। वकील द्वारा फर्जी तरीके से हीरालाल की युवती से शादी करा दी और दोनों भाईयों से कहा कि अब ये कोर्ट मैरिज हो गयी है।

पेट दर्द का बनाया बहाना

हीरालाल खुश होकर दुल्हन को लेकर देर रात अपने घर आ गया। परिजनों ने दुल्हन को हिंदू रीति रिवाज से गृह प्रवेश कराया, गीत-संगीत का प्रोग्रम हुआ, सभी लोग खुश थे। दूसरे दिन बुधवार को दुल्हन ने पूरे रीति-रिवाज से अपने ससुरालीजनों का विश्वास जीत लिया। रात को सुहागरात की बारी आने पर दुल्हन ने पेट दर्द का बहाना बनाया और अपने कमरे में जाकर सो गयी। करीब दस बजे अपने पति को दूध में नींद की गोली देकर करीब 12 बजे सारा जेवरात लेकर दुल्हन रफू चक्कर हो गयी। दूल्हे के भाई हीरालाल ने थाने में कस्बा के युवक के खिलाफ साजिश करने की तहरीर दी है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Recent Posts