BJP की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की मीटिंग में कई राजनीतिक प्रस्ताव पारित, आर्टिकल 370 समेत इन 22 मुद्दों पर हुई चर्चा

Share on facebook
Share on twitter
Share on linkedin

दिल्ली: आगामी विधानसभा चुनाव से पहले रविवार को बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक हुई. इस बैठक में एक राजनीतिक प्रस्ताव पारित किया गया है, जिसको उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ) ने पेश किया. इस प्रस्ताव का तमिलनाडु के बीजेपी प्रमुख अन्नामलाई ने अनुमोदन किया. राजनीतिक प्रस्ताव पर छह नेताओं ने अपनी बात रखी, जिनमें जी. किशन रेड्डी, मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह, केंद्रीय मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर, गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत, केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी शामिल हैं.

पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा भी शामिल रहे. इस मीटिंग के दौरान सात राज्यों में होने वाले आगामी चुनावों की रणनीति के बारे में चर्चा हुई. बता दें कि अगले साल यानी 2022 में सात राज्यों- गोवा, मणिपुर, पंजाब, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश और गुजरात में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं.

राजनीतिक प्रस्ताव में 18 विषयों का जिक्र किया गया है. केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बीजेपी के राजनीतिक प्रस्ताव (Political Resolution) के बारे में बताते हुए कहा, ‘राजनीतिक प्रस्ताव में कहा गया है कि 2004 से 2014 के दौरान जम्मू-कश्मीर में आतंकवाद से संबंधित घटनाओं में 2081 मौतें हुईं. जबकि 2014 से सितंबर 2021 तक जम्मू-कश्मीर में केवल 239 नागरिकों की मौत हुई है.’ सीतारमण ने कहा कि जम्मू-कश्मीर अब विकास कार्यों की ओर बढ़ रहा है. .

राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में किन मुद्दों पर हुई चर्चा?

(1) कोरोना वैक्सीनशन प्रोग्राम को लेकर विश्व में भारत की भूमिका पर चर्चा हुई.
(2) क्लाइमेट चेंज को लेकर भारत के कमिटमेंट पर COP26 में पीएम द्वारा रखी गई बात को सराहा गया.
(3) कम समय में 100 करोड़ कोरोना वैक्सीन लगाने की उपलब्धि पर चर्चा.
(4) कोरोना काल मे हेल्थ फैसिलिटीज को लेकर केंद्र सरकार के कामों की चर्चा.
(5) 80 करोड़ लोगों को मुफ्त भोजन, कोरोना से मृत लोगों के बच्चों के एडॉप्शन के मुद्दे पर भी चर्चा हुई.
(6) जॉब ढूंढने वालों की जगह जॉब पैदा करने के क्रम में भारतीय युवाओं की भूमिका और केंद्र की मदद पर चर्चा.
(7) जम्मू कश्मीर से आर्टिकल 370 हटने के बाद तेज हो रहे विकास के मुद्दे पर चर्चा.
(8) डिजिटल प्रोग्राम, स्वच्छ भारत, आयुष्मान भारत योजना जैसे कार्यक्रमों को जमीन पर उतरने की बात हुई.
(9) जनऔषधि योजना पर चर्चा.
(10) वोकल फॉर लोकल पर चर्चा.
(11) महिलाओं के नेतृत्व में विकास और उनको आगे बढ़ाने के कार्यक्रमों पर चर्चा.
(12) सोशल जस्टिस के कार्यक्रम की चर्चा.
(13) रक्षा क्षेत्र में बदलावों पर चर्चा.
(14) नेशनल पाम ऑयल मिशन पर चर्चा.
(15) MSP 5 गुना बढ़ाने पर चर्चा, कृषि इंफ्रास्ट्रक्चर बनाने में एफपीओ की भूमिका पर चर्चा.
(16) सेवा ही संगठन पर चर्चा, जिसमें 10 लाख वॉलंटियर्स ने पार्टिसिपेट किया.
(17) पीएम के सेवा क्षेत्र में 20 साल पर चर्चा.
(18) आने वाले विधानसभा चुनावों पर चर्चा.
(19) आने वाले चुनावों में जीत के लक्ष्य पर चर्चा.
(20) पिछले साल हुए विधानसभा चुनाव में पार्टी की परफॉर्मेंस पर चर्चा.
(21) पश्चिम बंगाल में हाल में हुई हिंसा पर चर्चा- कानून के जरिये लोगों को न्याय दिलाने के लिए कटिबद्ध.
(22) विपक्षी दलों के अवसरवादी रवैये पर और ट्विटर के जरिये निगेटिविटी फैलाने की कोशिश की निंदा हुई. क्योंकि विपक्ष पीएम द्वारा देश की छवि को सुधारने की कोशिश में बट्टा लगाने का प्रयास कर रहा है.

Recent Posts