January 27, 2023 1:15 pm

अगर जान लें, की किन चीजों से बनाई जाती है लिपस्टिक ! तो लगाना भूल जाएंगी आप ?

न्यूज़ डेस्क : लिपस्टिक एक ऐसा मेकअप प्रॉडक्ट है जो आपको आसानी से किसी भी महिला की मेकअप किट में मिल जायेगा. भले ही कोई महिला मेकअप करने की बहुत अधिक शौकीन ना हो, तब भी उसकी मेकअप किट में लिपस्टिक तो मिल ही जायेगी? मार्केट में न जाने कितनी तरह की शेड्स की लिपस्टिक उपलब्ध हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं कि लिपस्टिक बनती कैसे है? अगर नहीं, तो हम आपको बताते हैं और साथ आज हम आपको लिपस्टिक से जुड़े कुछ फन फैक्ट्स भी बताएंगे. पढ़ते रहिए इस खबर को…

क्या चीजें होती हैं इस्तेमाल?

लिपस्टिक बनाने के लिए ऑयल, मोम, पिगमेंट्स, फ्रैग्रेंस, ग्लोस आदि का उपयोग किया जाता है. लिपस्टिक की लॉन्ग लाइफ के लिए इसमें कई तरह के प्रेजरवेटिव्स और एल्कोहॉल आदि का भी इस्तेमाल होता है. इसके अलावा कंपनी कई और चीजें भी इस्तेमाल करती हैं, लेकिन उनकी जानकारी सार्वजनिक नहीं की जाती है. आज जानते हैं कि लिपस्टिक बनाने की प्रोसेस क्या है..

कैसे बनाई जाती है लिपस्टिक?

सबसे पहले पिगमेंट्स की मिक्सिंग होती है. दरअसल, पिगमेंट्स एक प्रकार के कलर होते हैं और इनको मिक्स करके तरह-तरह के कलर और शेड्स बनाए जाते हैं. इन्हे तेल के साथ मिक्स किया जाता है और इस मिक्सिंग में तेल और पिगमेंट 2 अनुपात 1 में होते हैं.

इसके बाद मॉल्डिंग की प्रक्रिया की जाती है. जिसे एक स्पेसिफिक टेम्प्रेचर पर किया जाता है और फिर तेजी से ठंडा किया जाता है. साथ ही इस प्रोसेस में इस बात का भी ख्याल रखना होता है कि इस मिक्स में कहीं भी एयर न रहे. इसके बाद इसे ठंडा किया जाता है और सांचों से निकाल कर इसकी स्टिक्स बनाई जाती हैं. जिसके बाद कुछ फिनिशिंग वगैरह का काम करके उन्हें पैक करके बाजार में बेचा जाता है.

पहली कमर्शियल लिपस्टिक 

देखा जाए तो लिपस्टिक का काफी समय पहले से इस्तेमाल किया जा रहा है. पहले महिलाएं पत्थरों को तोड़कर उन्हे क्रश कर किया करती थी, और इनसे अपने होठों और लिप्स को रंग देती थी. वहीं, अगर पहली कमर्शियल लिपस्टिक की बात की जाए तो बिक्री के लिए पहली लिपस्टिक 1884 में फ्रेंच ब्रांड गुएरलेन ने बनाई थी. अब यही ब्रांड दुनिया में सबसे महंगी लिपस्टिक बनाने के लिए जाना जाता है.

जानवरों का इस्तेमाल

पुराने समय से जानवर और इंसेक्ट के शरीर के विभिन्न अंगों का इस्तेमाल लिपस्टिक बनाने के लिए होता आ रहा है. हालांकि अब भोजन से लेकर कॉस्मेटिक प्रॉडक्ट्स के वेगन होने पर जोर बढ़ा है. अब कई ब्रांड्स वेगन लिपस्टिक व मेकअप प्रॉडक्ट्स बनाने लगे हैं, लेकिन फिर भी कई प्रॉडक्ट में जानवरों की स्किन से लेकर अन्य अंगों का इस्तेमाल किया जा रहा है.

Source : “ABP न्यूज़”