February 21, 2024 10:24 am

28 मार्च को अगली सुनवाई, अंकिता के हत्यारों को जमानत नहीं मिल पाई…

कोटद्वार: उत्तराखंड के बहुचर्चित अंकिता भंडारी हत्याकांड में आज मुख्य आरोपी पुलकित आर्य और अंकित गुप्ता को हत्याकांड के बाद पहली बार कोटद्वार न्यायालय में ट्रायल के लिए पेश किया गया. जहां कोर्ट ने दोनों आरोपियों की जमानत याचिका खारिज कर दी है. जबकि तीसरे आरोपी सौरभ भास्कर की जमानत याचिका पहले ही कोर्ट खारिज कर चुकी है. ऐसे में मामले में अब तीनों आरोपियों की जमानत याचिका खारिज हो चुकी है. अंकिता भंडारी हत्याकांड में कोटद्वार अपर जिला न्यायालय जज ने दोनों अभियुक्तों पुलकित आर्य और अंकित गुप्ता पर लगे आरोपों को पढ़कर सुनाया. हत्याकांड के अभियुक्तों के अधिवक्ता अमित सजवाण ने बताया कि कोर्ट में आज ट्रायल है. जिसमें अग्रिम तारीख 28 मार्च को तय की गई है. अमित ने बताया दोनों आरोपियों की जमानत की अर्जी लगाई गई, जिसे न्यायालय ने खारिज कर दिया है. वहीं, सौरभ भास्कर की जमानत कोर्ट पहले ही खारिज कर चुकी है.

28 मार्च को होगी अगली सुनवाई

अंकिता भंडारी हत्याकांड का मामला 28 मार्च से अपर जिला जज बेंच में विधिवत चलेगा. वहीं बेटी को न्याय दिलाने के लिए अंकिता के माता पिता सुप्रीम कोर्ट पहुंचे हैं. सुप्रीम कोर्ट ने अंकिता भंडारी हत्याकांड में उत्तराखंड सरकार से 27 मार्च तक जवाब मांगा है.

मामले में सरकार ने गठित की एसआईटी

उत्तराखंड सरकार ने अंकिता हत्याकांड की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया. मामले की जांच में जुटी एसआईटी टीम ने तीनों आरोपियों पर हत्याकांड में गंभीर धाराओं को लगाते हुए जेल भेज दिया था. आज 18 मार्च को पहली बार भारी सुरक्षा के बीच तीनों आरोपियों को कोटद्वार न्यायालय में पेश किया गया. अंकिता भंडारी पक्ष के अधिवक्ता जितेंद्र रावत ने बताया कि एसआईटी टीम द्वारा अभियुक्तों के खिलाफ चार्जशीट तय की जाएगी. जिसके बाद अंकिता हत्याकांड मामले में न्यायालय में विधिवत अभियुक्तों व गवाहों की सुनवाई की जाएगी.

बता दें कि पौड़ी जिले के गंगा भोगपुर राजस्व क्षेत्र स्थित वनंत्रा रिसोर्ट में कार्यरत अंकिता भंडारी 18 सितंबर 2022 को एकाएक गायब हो गई. अंकिता की गुमशुदगी के बाद पिता ने राजस्व क्षेत्र में रिपोर्ट दर्ज करवाई. वनंत्रा रिसोर्ट राजस्व पुलिस क्षेत्र में होने पर राजस्व पुलिस तीन दिनों तक गुमशुदा अंकिता को बरामद नहीं कर पायी थी. जिसके बाद अंकिता के पिता के बेटी की हत्या की आशंका जताने पर राजस्व पुलिस से मामला रेगुलर पुलिस को सौंपा गया. गौरतलब है कि वनंत्रा रिसोर्ट भाजपा नेता के बेटे पुलकित आर्य का था. रेगुलर पुलिस ने केस हस्तांतरित होने पर पुलकित आर्य से सख्ती से पूछताछ की. जिसमें इस हत्याकांड का खुलासा हुआ. आरोपी पुलकित आर्य और उसके दोस्त अंकित गुप्ता और सौरभ भास्कर की निशानदेही पर अंकिता भंडारी का शव चीला बैराज से उत्तराखंड जल पुलिस ने बरामद किया था.