May 29, 2024 7:30 am

सरकारी नौकरी के लालच में बेटे ने बनाया पिता की मौत का प्लान, बड़ा बेटा नहीं होता तो हो जाती शिक्षक की हत्या

अलवर: राजस्थान के अलवर में एक युवक पर सरकारी नौकरी का भूत इस कदर सवार हुआ कि उसने अपने ही पिता की हत्या का प्लान बना लिया। हत्या की साजिश रचने में उसकी पत्नी भी साथ थी। दोनों ने पहले सरकारी शिक्षक की नौकरी करने वाले पिता को फोन किया। फोन में उनसे कहा गया कि पोते की तबीयत खराब है और जल्दी घर पहुंचें। घर पहुंचने पर उन्हें बंधक बना लिया और सिर पर लोहे के सरिये से वार किया। सरिये के वार से पिता बेहोश हो गए तो उन्हें गाड़ी में बांधकर अलवर शहर की तरफ ले गया।

आरोपी बेटा दो-तीन घंटे तक अपने पिता को गाड़ी में बांधे घूमता रहा, लेकिन उसे कोई तरीका नहीं सूझा, जिससे वह अपने प्लान को अंजाम दे सके। इस बीच आरोपी के बड़े भाई को इस घटना की जानकारी लगी तो वह परिवार के अन्य लोगों के साथ पिता को ढूंढ़ने निकल गए। 4 से 5 घंटे के बाद बड़े भाई व परिवार के अन्य लोगों ने गाड़ी का पीछा कर फौजी राज ढाबा के पास निरंजन लाल को अंकित और पूजा के चंगुल से छुड़ाया। आरोपी भाग गए, लेकिन मौके पर पुलिस को बुलाकर अरावली विहार थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। पीड़ित शिक्षक ने अपनी जान की सुरक्षा की गुहार लगाई है और आरोपी बेटे-बहू के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है।

निरंजन के सिर पर गंभीर चोट

सरकारी शिक्षक निरंजन लाल अरावली विहार थाना क्षेत्र के मालवीय नगर में रहते हैं। उनके बेटे ने सरकारी नौकरी के लालच में उनकी हत्या करने की कोशिश की और उनके सिर पर लोहे के सरिया से वार किए। इसके अलावा भी उनके साथ मारपीट की। इससे उनके सिर और चेहरे पर गंभीर चोटें आई हैं। काफी देर तक उन्हें बंधक भी बनाया गया। बड़े बेटे की वजह से उनकी जान बच गई, लेकिन अब उन्होंने पुलिस से शिकायत कर आरोपी बेटे और बहू के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। इसके साथ ही पुलिस से सुरक्षा की गुहार लगाई है।