May 29, 2024 6:51 am

पीएम नरेंद्र मोदी के रिटायरमेंट पर उठ रहे सवाल, विपक्षी दलों ने अमित शाह के बयान पर की टिप्पणी

दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जेल से बाहर आने के बाद शनिवार को पहली बार चुनावी सभा करने पहुंचे। दिल्ली में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा कि तीसरे कार्यकाल में अगर भाजपा जीतकर आती है तो ये लोग योगी आदित्यनाथ को हटा देंगे, जैसे लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी को हटाया था। इस बाबत न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत करते हुए केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने कहा कि INDI गठबंधन को पता है कि हम(NDA) 400 पार करने जा रहे हैं और मोदी तीसरी बार देश के प्रधानमंत्री बनेंगे। इसलिए इस तरह की भ्रांतियां फैला रहे हैं।

केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने दिया बयान

केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने कहा कि मैं जनता के सामने स्पष्ट करना चाहता हूं कि भाजपा के संविधान में ऐसा कोई प्रावधान नहीं है। नरेंद्र मोदी ही 2029 तक नेतृत्व करेंगे और नरेंद्र मोदी ही आने वाले चुनाव का भी नेतृत्व करेंगे। INDI गठबंधन के लिए कोई अच्छा समाचार नहीं है। उन्हें ज्यादा परिश्रम करना चाहिए, भ्रष्टाचार बंद करना चाहिए। इस प्रकार के झूठे भ्रम फैलाकर वे चुनाव नहीं जीत सकते। इसपर राजद नेता मनोज झा ने कहा कि जिस दल में व्यक्ति दल से बड़ा हो जाए वहां ऐसा होता है। लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी रिटायर करा दिए गए लेकिन प्रधानमंत्री नहीं रिटायर होंगे क्योंकि यहां व्यक्ति दल से बड़ा है।

योगी आदित्यनाथ के रिटायरमेंट पर क्या बोले मनोज झा

मनोज झा ने कहा कि अरविंद केजरीवाल ने यहा भी कहा था कि योगी आदित्यनाथ को 2 महीने में हटा दिया जाएगा लेकिन इसका किसी ने खंडन नहीं किया मतलब प्लान पक्का है। अगर अरविंद केजरीवाल की एक बात का खंडन किया जा रहा है तो दूसरी बात का क्यों नहीं? वहीं राजद नेता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि 75 वर्ष के बाद मार्गदर्शक मंडल में डाले जाने का नियम किसने बनाया था। लालकृष्ण आडवाणी व मुरली मनोहर जोशी समेत तमाम नेताओं को यही कहकर मार्गदर्शक मंडल में डाल दिया गया था। अब जब पीएम मोदी के 75 वर्ष के बाद मार्गदर्शक मंडल में जाने पर कहा गया तो सफाई दी जा रही है।