January 27, 2023 2:34 pm

पुलिस के सितम ने कर दिया अपाहिज !  सब्जी की दुकान लगाने पर दीवान ने ट्रैक पर फेंका तराजू, उठाने गया तो ट्रेन से कट गए दोनों पैर…

कानपुर: ‘मेरा तराजू मत फेंकिए, मैं अपनी दुकान यहां से हटा रहा हूं…’ एक सब्जी बेचने वाला गरीब व्यक्ति चिल्लाता रहा लेकिन पुलिस ने एक न सुनी और उसके तराजू को पास के रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया. इसके बाद तुरंत सब्जी वाला अपना तराजू उठाने वहां पहुंचा लेकिन इससे पहले कि वो वहां से उठ पाता ट्रेन से उसके दोनों पैर कटकर अलग हो गए. दिल दहला देने वाली ये घटना उत्तर प्रदेश के कानपुर की है. यहां कल्याणपुर थाना इलाके में पुलिस की दबंगई की वजह से एक गरीब व्यक्ति के दोनों पैर हमेशा के लिए उसके शरीर से अलग हो गए. कानपुर पुलिस के इस अमानवीय चेहरे के सामने आने बाद यूपी पुलिस इस मामले के डैमेज कंट्रोल में जुट गया है. पुलिस ने आरोपी दीवान को सस्पेंड कर दिया है. जानकारी के मुताबिक, कल्याणपुर थाने के सामने व्यक्ति ने अपनी सब्जी की दुकान लगा रखी थी. वो टमाटर बेच रहा था. तभी थाने के दीवान वहां पहुंचे और उसके तराजू को उठाकर रेल की पटरी पर फेंक दिया. घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है.

खून से लथपथ शरीर को देख दौड़े लोग

लड्डू नाम का सब्जीवाला अपने तराजू को उठाने गया तो उसी समय ट्रेन आ गई और इससे पहले कि वो वहां से हट पाता, उसके दोनों पैर ट्रेन से कट चुके थे और वो चीख रहा था. उसका शरीर खून से लथपथ था. उसकी हालत देखकर कुछ लोगों ने उसे पटरी से उठाकर कानपुर के हैलट अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कराया. दुकानदार की हालत गंभीर है.

पुलिस ने पहले हड़काया फिर सामान फेंका

मौके पर मौजूद लोगों का कहना था कि दीवान राकेश वहां पर दरोगा शादाब के साथ पहुंचे थे. पहले उन्होंने सब्जीवाले को खूब हड़काया. इसके बाद उन्होंने तुरंत सब्जीवाले के तराजू को उठाया और उसे रेलवे ट्रैक पर फेंक आए. इस दौरान सब्जीवाला लड्डू हाथ जोड़कर दोनों से विनती करता रहा.

वो कहता रहा कि मेरा तराजू मत फेंकिए, मैं अपनी दुकान हटा दूंगा. लेकिन पुलिस अधिकारी ने उसकी एक न सुनी. उन्होंने उसके सामान को उठाकर रेल लाइन पर फेंक दिया. इसके बाद अपना तराजू रेलवे ट्रैक पर देखकर वो भी वहां लेने के लिए पहुंचा और उसी समय वहां ट्रेन आ गई. ट्रेन से उसके दोनों पैर कटकर अलग हो गए.

Source : “Zee News”