February 21, 2024 11:04 am

 27 अप्रैल को खुलेंगे बदरीनाथ धाम के कपाट

देहरादून: बसंत पंचमी के मौके पर बदरीनाथ धाम के कपाट खुलने की तिथि घोषित कर दी गई है. इस साल बदरीनाथ के कपाट 27 अप्रैल को खुलेंगे. बदरीनाथ धाम के कपाट 27 अप्रैल की सुबह 7 बजकर 10 मिनट पर खोले जाएंगे. कपाट खुलने की तिथि का ऐलान नरेंद्रनगर स्थित राजदरबार में राजपुरोहितों ने किया.

आज नरेंद्रनगर स्थित राजमहल में सुबह दस बजे से आयोजित धार्मिक समारोह का आयोजन किया गया. जिसमें राजपरिवार सहित मंदिर समिति के पदाधिकारियों, डिमरी धार्मिक केंद्रीय पंचायत और श्रद्धालुओं की उपस्थिति में पंचांग गणना के बाद विधि-विधान से बदरीनाथ धाम के कपाट खुलने की तिथि और मुहूर्त तय किया गया. जिसके अनुसार इस साल बदरीनाथ के कपाट 27 अप्रैल को खुलेंगे. बदरीनाथ धाम के कपाट 27 अप्रैल की सुबह 7 बजकर 10 मिनट पर खोले जाएंगे.

बता दें बदरीनाथ अथवा बदरीनारायण मंदिर भारतीय राज्य उत्तराखण्ड के चमोली जनपद में अलकनन्दा नदी के तट पर स्थित एक हिन्दू मन्दिर है. यह हिंदू देवता विष्णु को समर्पित मंदिर है. यह स्थान इस धर्म में वर्णित सर्वाधिक पवित्र स्थानों, चार धामों, में से एक यह एक प्राचीन मंदिर है. जिसका निर्माण 7वीं-9वीं सदी में होने के प्रमाण मिलते हैं. मन्दिर के नाम पर ही इसके इर्द-गिर्द बसे नगर को भी बदरीनाथ ही कहा जाता है. भौगोलिक दृष्टि से यह स्थान हिमालय पर्वतमाला के ऊंचे शिखरों के मध्य, गढ़वाल क्षेत्र में बसा है.बदरीनाथ भारत के कुछ सबसे व्यस्त तीर्थस्थानों में से एक है.

अन्य धामों की तिथियों का ऐलान भी जल्द

18 फरवरी को शिवरात्रि के दिन ओंकारेश्वर मंदिर ऊखीमठ में केदारनाथ धाम के कपाट खुलने की तिथि तय होगी. गंगोत्री व यमुनोत्री धाम के कपाट परंपरागत रूप से अक्षय तृतीया को खुलते हैं. इस बार अक्षय तृतीया 22 अप्रैल को है. गंगोत्री व यमुनोत्री मंदिर समिति की ओर से दोनों मंदिरों के कपाट खुलने की तिथि व समय घोषित किया जाएगा. फिलहाल आज बदरीनाथ धाम के कपाट खुलने की तिथि की ऐलान किया गया है.