April 12, 2024 11:42 pm

हज यात्रा पर जाने के लिए कैसे और कहाँ करना होगा आवेदन ? कितना आएगा खर्चा, यहां जानिए पूरी डिटेल्स…

न्यूज़ डेस्क हर मुसलमान के लिए हज यात्रा पर जाना अपने जीवन के एक बड़े ख्वाब का साकार होने जैसा है। अगर उन्हें हज पर जाने का मौका मिले तो ये उनके लिए अल्लाह की सबसे बड़ी रहमत है। अगर आप भी हज पर जाने की इच्छा रखते हैं तो बिना देरी किए आवेदन कर दीजिए।हज कमेटी ऑफ इंडिया ने हज यात्रा के लिए ऑनलाइन आवेदन की अंतिम तारीख को बढ़ा दी है। पहले 10 फरवरी से 10 मार्च तक आवेदन की तारीख तय थी लेकिन इसे बढ़ाकर अब 20 मार्च 2023 कर दिया गया है। हज यात्रा के लिए इच्छुक लोग 20 मार्च को शाम 5 बजे तक फॉर्म जमा कर सकते हैं। आपको बता दें कि सालाना हज के मौके पर दुनियाभर के कई देशों से लाखों लोग इस्लाम में पवित्र माने गए शहर मक्का में जुटते हैं। इस साल हज यात्रा की शुरुआत 26 जून से हो रही है, जो कि 1 जुलाई तक चलेगी।

हज यात्रा पर जाने के लिए कैसे और कहां करें आवेदन?

  • हज कमेटी ऑफ इंडिया की आधिकारिक वेबसाइट (https://hajcommittee.gov.in/) पर जाएं
  • इसके बाद हज 2023 पर क्लिक करें
  • फिर ‘ऑनलाइन आवेदन पत्र’ को सेलेक्ट करें और ‘नया पंजीकरण’ पर क्लिक करें
  • इसके बाद आईडी, पासवर्ड, प्रथम नाम, अंतिम नाम, राज्य और सुरक्षा कोड सहित अन्य जानकारी भर दें और रजिस्टर पर क्लिक करें
  • सब जमा होने के बाद आपके मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी आएगा
  • स्क्रीन पर एक मैसेज दिखाई देगा, अपना यूजर आईडी (मोबाइल नंबर) और पासवर्ड दर्ज करें।
  • उपयुक्त एप्लिकेशन श्रेणी चुनें
  • लोगों और बच्चों की संख्या का चयन करें
  • इसके बाद नेक्सट बटन पर क्लिक करें
  • सबमिट करने के बाद आवेदक को दस्तावेज अपलोड (पासपोर्ट, फोटोग्राफ, पासपोर्ट का पहला पन्ना, अंतिम पन्ना, कैंसिल चेक की प्रति, कोरोना टीकाकरण का प्रमाण पत्र) करने होंगे
  • फिर सबमिट पर क्लिक करें
  • इसके बाद आपको अलर्ट मैसेज आएगा
  • ओके पर क्लिक करें
  • इसके बाद डाउनलोड HAF2023 बटन पर क्लिक कर दें
  • हज आवेदन फॉर्म को डाउनलोड करना बिल्कुल न भूलें

हज यात्रा में कितना खर्चा होता है?

हज पॉलिसी 2023 के मुताबिक, इस बार हज के लिए आवेदन फ्री होगा, यानी सभी हज यात्री मुफ्त में आवेदन कर सकेंगे। बता दें कि पहले आवेदन के लिए 400 रुपये प्रति हाजी लिए जाते थे। साथ ही इस बार करीब 50 हजार प्रति हाजी छूट भी दी जाएगी। हज यात्रियों को बैग, सूटकेस, छाता, चादर जैसे सामान के लिए अब पैसा नहीं देना होगा। वे अपने स्तर पर सामान खरीदकर ले जा सकेंगे।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, साल 2019 में भारत से हज यात्रा पर गए यात्री को अजीजिया कैटेगरी के लिए 2.36 लाख रुपये और ग्रीन कैटेगरी के लिए एक यात्री को 2.82 लाख रुपये तक खर्च करने पड़े थे। वहीं 2022 में हज यात्रा के लिए भारतीयों को 3.35 लाख से 4.07 लाख रुपये तक खर्च करने पड़े थे।