September 28, 2023 7:06 am

सिर्फ कुत्ता ही नहीं इन जानवरों के काटने से भी हो सकती है रेबीज की बीमारी

न्यूज़ डेस्क : क्या आपको कभी कुत्ते ने काटा है? अगर हां, तो आपको लोगों ने 24 घंटे के भीतर इंजेक्शन लगवाने की सलाह जरूर दी होगी। दरअसल, अगर कुत्ते के काटने के बाद इंजेक्शन न लगवाया जाए, तो रेबीज इंफेक्शन फैलने लगता है। रेबीज इंफेक्शन की वजह से व्यक्ति की जान तक जा सकती है। लेकिन क्या आपको पता है कि सिर्फ कुत्ते के काटने से ही रेबीज रोग नहीं होता है। कुत्ते के अलावा भी कई ऐसे स्तनधारी जानवार हैं, जिनके काटने से रेबीज इंफेक्शन हो सकता है। आइए, इस लेख में किन जानवरों के काटने से रेबीज रोग हो सकता है-

किन जानवरों के काटने से रेबीज इंफेक्शन होता है?

सीडीसी के अनुसार किसी भी स्तनधारी जानवर से रेबीज इंफेक्शन हो सकता है। सिर्फ स्तनधारियों से ही रेबीज फैलता है। पक्षी, सांस या मछली आदि से रेबीज नहीं होता है, क्योंकि ये स्तनधारी नहीं हैं। चमगादड़, बिल्ली या लोमड़ी आदि से रेबीज इंफेक्शन होमा बेहद आम है। आपको बता दें कि रैकून, स्कंक, चमगादड़ और लोमड़ी में सबसे ज्यादा रेबीज होता है।

  1. चमगादड़

चमगादड़ में रेबीज होता है। चमगादड़ के काटने या खरोंचने से इंसानों में रेबीज इंफेक्शन फैल सकता है। कई बार लोग चमगादड़ की खरोंच को नजरअंदाज कर देते हैं, लेकिन इससे आपको गंभीर नुकसान हो सकता है। ऐसे में अगर कभी चमगादड़ खरोंच लें, तो इस स्थिति में इंजेक्शन जरूर लगवाएं।

  1. बिल्ली

चमगादड़ की तरह ही बिल्ली में भी रेबीज होता है। अगर किसी व्यक्ति को बिल्ली काट लें, तो उसमें रेबीज इंफेक्शन फैल सकता है। कई बार किसी जानवर के काटने से बिल्ली में रेबीज आ सकता है। ऐसे में जब बिल्ली किसी व्यक्ति को काटती है, तो यह इंफेक्शन व्यक्ति में भी आ सकता है। ऐसे में आपको बिल्ली के काटने पर रेबीज इंजेक्शन जरूर लगवाना चाहिए।

  1. लोमड़ी

लोमड़ी के काटने से भी रेबीज इंफेक्शन हो सकता है। अगर कभी आपको लोमड़ी काटें या खरोंच लें, तो इस स्थिति में आपको रेबीज का इंजेक्शन जरूर लगवाना चाहिए।

  1. बंदर

बंदर के काटने से भी रेबीज इंफेक्शन फैल सकता है। बंदर के खरोंचने या काटने से रेबीज हो सकता है। अगर कभी आपको बंद काटें या खरोंचें, तो ऐसे में रेबीज इंजेक्शन जरूर लगवा लें। वरना, आपको रेबीज इंजेक्शन हो सकता है और गंभीर समस्या हो सकती है।

और किन किन जानवरों के काटने से रेबीज होता है

अभी तक आपने जितने भी मामले सुने होंगे, उनमें ज्यादातर कुत्तों के काटने से ही रेबीज फैलने की बात सुनी होगी. हालांकि, ऐसा नहीं है. कई और जानवर भी ऐसे हैं जिनके काटने, खरोंचने या फिर उनके संपर्क में आने से भी आपको रेबीज हो सकता है. साफ शब्दों में कहें तो अगर किसी  कुत्ता, बिल्ली, बंदर, नेवला, लोमड़ी, सियार या फिर गिलहरी, चूहे और खरगोश को रेबीज की बीमारी है तो आपको इन जानवरों से दूरी बनाए रखनी चाहिए. क्योंकि अगर इन्होंने आपको काट लिया या खरोंज लिया तो आप रेबीज के शिकार हो सकते हैं.